*कोरोना कहर में स्वास्थ्य विभाग की घोर लापरवाही*
July 31, 2020 • गुरुकुल वाणी

_एक ही आदमी के कोरोना के दो रिजल्ट_
*सांकृत्यायन रवीश पाण्डेय*
सलेमपुर,देवरिया। पूरे देश मे कोरोना का कहर जारी है,रोज सैकड़ो लोग काल के गाल में समाते जा रहे हैं,सरकार इसे लेकर गंभीर है।केन्द्र व प्रदेश की सरकारें कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोक पाने में असफल होती जा रही हैं,रोज नए नए निर्देश जारी हो रहे हैं,अधिकारियों व कर्मचारियों को इसे लेकर सरकार नए नए फरमान जारी कर लोगों के जान बचाने के प्रति काफी संजीदगी दिखा रही है।ऐसे में स्वास्थ्य विभाग की घोर लापरवाही का मामला सामने आया है जो सरकार के मंसूबे पर पानी फेरता नजर आ रहा है।मामला देवरिया सदर अस्पताल का है जहां अस्पताल के कर्मचारियों द्वारा चकीयवा निवासी दिलीप का कोरोना जाँच के लिए 25 जुलाई को सेम्पल लिया गया और जांच रिपोर्ट में निगेटिव दिखाया गया जिससे दिलीप चैन की सांस लेते हुए काफी राहत महसूश किया,लेकिन जिला अस्पताल द्वारा एक दूसरी जांच रिपोर्ट 29 जुलाई को जारी किया गया और उसमें दिलीप को कोरोना पॉजिटिव दिखाया गया है।जबकि दिलीप का कहना है कि हमने 29 को जांच के लिए कोई सेम्पल नही दिया है और बिना सेम्पल के जांच कर पॉजिटिव दिखाया गया है। जिला अस्पताल व स्वास्थ्य कर्मचारियों की घोर लापरवाही को दर्शाता है।

कोरोना के बढ़ते कहर के बीच लोग भय के आगोश में जीने को मजबूर हैं।इसके संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए आम जनता सरकार के साथ है लेकिन सरकारी महकमे के अधिकारियों व कर्मचारियों के चलते सरकार के मनसूबे पर पानी फिरता नजर आ रहा है।