*युवाओं ने देश सपूत कलाम को किया याद*
July 27, 2020 • गुरुकुल वाणी

_गुमटही में मनायी गयी कलाम की पुण्यतिथि_

सलेमपुर,देवरिया। तहसील क्षेत्र के ग्राम गुमटही में देश सपूत भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम की पुण्यतिथि युवाओं ने मनाया और सच्ची श्रद्धांजलि दी गयी।इस अवसर पर अभिषेक पाण्डेय ने कहा कि ए पी जे अब्दुल कलाम देश का राष्ट्रपति बनने से पहले भारतिय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) तथा रक्षा अनुसंधान एंव विकास संगठन (डी आर डी ओ) के साथ एयरोस्पेस इंजीनियर के रूप में काम करते हुए देश को तकनीक के क्षेत्र में आगे के जाने जा काम किया।

पिंटू मिश्रा ने कहा कि प्रक्षेपण यान और बैलिस्टिक मिसाइल प्राद्यौगिकी के विकास पर कार्य करने के कारण कलाम को मिसाइल मैन आफ इंडिया के नाम से जाना जाता है।सौरभ पाण्डेय उर्फ गोल्डन ने अपने संबोधन में कहा कि वर्ष 1974 में प्रारम्भिक परमाणु परीक्षण के बाद वर्ष 1998 में भारत मे किए गए पोखरण द्वितीय परमाणु परीक्षणों ने उनकी भूमिका को एक महतवर्ण राजनीतिक,संगठनात्मक और तकनीकी रूप में सर्वाधिक उजागर किया।रविशंकर पाण्डेय ने कहा कि कलाम मुख्यरूप से एक भारतीय वैज्ञानिक और प्रशासक थे।युवा समाज सेवी अवनीश पाण्डेय ने ए पी जे अब्दुल कलाम के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वे इंदौर,अहमदाबाद और शिलांग के भारतीय प्रबंध संस्थानों में एक अतिथि प्रवक्ता के रूप में पढ़ाया।वह भारत के अन्य शोध और शैक्षणिक संस्थानों में एक सहायक और अतिथि प्रवक्ता होने के अतिरिक्त मैसूर के जेएसएस विश्वविद्यालय और चेन्नई के अन्ना विश्वविद्यालय में एयरोस्पेस इंजीनियरिंग के प्रोफेसर थे।

श्रद्धांजलि देने वालो में अभेषेक पाण्डेय,मुन्ना पाण्डेय,अरविंद पाण्डेय बबलू,अनंत उर्फ पुपुल पाण्डेय आदि मुख्य रूप से शामिल रहे।

*सांकृत्यायन रवीश पाण्डेय*