आज के चाणक्य की राजनैतिक सफर : शिवाकांत तिवारी  
May 5, 2020 • गुरुकुल वाणी

आज देश में भाजपा के चाणक्य के रुप में प्रसिद्ध अमित शाह के अंदाज को बिरोधी दलों के लोग भली-भांति जानते है कहा जाता है कि भाजपा को मजबुत दल के रुप में बढाने में अमित शाह का सबसे शान्दार योगदान है। आरएस एस से जूड़कर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तक कार्य किये अमित शाह आज देश के गृह मंत्री है। उन्होने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष कार्यकाल में भाजपा को विश्व स्तर पर पहचान दिलायी भारतीय ज्योतिष की गड़ना में अमित शाह ऐसे नक्षत्र जिनका कोई अभी तोड़ अन्य दलो में नही है इसलिये देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के सबसे  करीबी में अमित शाह जी माने जाते है। मुंबई में संपन्न गुजराती परिवार में हुआ था अमित शाह का जन्मअमित शाह बीएससी करने के बाद संभालने लगे थे पिता का कारोबार।

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज 55 साल के पूरे हो गए हैं. उनका जन्म 22 अक्टूबर 1964 को मुंबई के संपन्न गुजराती परिवार में हुआ था. उनकी मां का नाम कुसुमबेन और पिता का नाम अनिलचंद्र शाह है. अमित शाह को मौजूदा राजनीति का चाणक्य माना जाता है. हालांकि उनके शेयर ब्रोकर से राजनीति का शहंशाह बनने तक का सफर बेहद दिलचस्प है.

अमित शाह ने जब से बीजेपी अध्यक्ष की कमान संभाली है, तब से पार्टी ने कई मुकाम हासिल किए. हालांकि उनको राजनीति विरासत में नहीं मिली है. अहमदाबाद से बॉयोकेमिस्ट्री में बीएससी करने के बाद अमित शाह ने अपने पिता के प्लास्टिक के पाइप का कारोबार संभालने लगे थे. इसके बाद उन्होंने स्टॉक मार्केट में कदम रखा और शेयर ब्रोकर के रूप में काम किया. जब उन्होंने राजनीति में कदम रखा, तो फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा.

अमित शाह 16 साल की उम्र तक अपने पैतृक गांव गुजरात के मान्सा में ही रहे और स्कूली शिक्षा हासिल की. इसके बाद जब उनका परिवार अहमदाबाद शिफ्ट हो गया, तो वो अहमदाबाद आ गए. उन्होंने अहमदाबाद से ही अपनी बीएससी की पढ़ाई की.

16 साल की उम्र में स्वयंसेवक बन गए अमित शाह

अमित शाह ने साल 1980 में 16 वर्ष की उम्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से जुड़ गए थे और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (ABVP) के कार्यकर्ता बन गए