आप सभी को हिंदी पत्रकारिता दिवस की हार्दिक बधाई
May 31, 2020 • गुरुकुल वाणी

पत्रकारिता को चौथा स्तम्भ कहा जाता है। देश को चलाने में पत्रकारों का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा है। 30 मई यानी हिंदी पत्रकारिता दिवस। 1826 ई. का यह वही दिन था, जब पंडित युगल किशोर शुक्ल ने कलकत्ता से प्रथम हिन्दी समाचार पत्र 'उदन्त मार्तण्ड' का प्रकाशन आरंभ किया था। 

पत्रकारिता को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ माना जाता है। इसका दृढ़ता से सच के साथ खड़ा होना अति आवश्यक है।  राष्ट्र की प्रगति में निष्पक्ष पत्रकार विपक्ष से ज्यादा प्रभावशाली होता है

सरफराज अन्सारी
     सलेमपुर