बस्ती : रेलवे टिकटों के सॉफ्टवेयर बेचने वाले दो अरेस्ट, 12 लाख के टिकट बरामद
March 15, 2020 • गुरुकुल वाणी

बस्ती। रेलवे ई टिकट के सॉफ्टवेयर और आईआरसीटीसी की फर्जी आईडी बेचने वाले गिरोह के दो सदस्यों को आरपीएफ ने रविवार को अरेस्ट किया है। पकड़े गए एक आरोपी के पास से करीब 12 लाख रुपये के ई टिकट बरामद हुए हैं, जबकि दूसरे आरोपी द्वारा करीब एक हजार से ज्यादा आई आर सी टी सी की फर्जी आईडी बेचने का दावा आरपीएफ टीम ने किया है।

आरपीएफ इंस्पेक्टर नरेन्द्र यादव ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर रेल टिकटों की ब्लैकमार्केटिंग करने वाले शातिर किफायतुल्ला को बस्ती रेलवे स्टेशन से अरेस्ट किया गया। आरोपी की तलाशी में उसके पास से कुल 551 ई टिकट बरामद हुए, जिसकी कीमत करीब 12.38 लाख रुपये आंकी गई है। आरपीएफ इंस्पेक्टर के मुताबिक किफायतुल्ला पिछले 2 साल से आईआरसीटीसी के ई टिकट बुकिंग के लिए एएनएमएस नाम के सॉफ्टवेयर को टिकटों की कालाबाजारी करने वाले गिरोह को बेच रहा था।

देश के विभिन्न हिस्सों से टिकट एजेंट आरोपी से वॉट्सऐप के जरिए संपर्क कर सॉफ्टवेयर खरीद लेते थे। आरपीएफ ने आईआरसीटीसी की फर्जी आईडी उपलब्ध कराने वाले शातिर प्रदीप कुमार को भी गिरफ्तार किया है। लुधियाना के रहने वाले प्रदीप ने आरपीएफ की पूछताछ में कबूला है कि उसने अभी तक टिकटों की ब्लैकमार्केटिंग करने वाले गिरोह को 1000 से ज्यादा फर्जी आईआरसीटीसी की आईडी उपलब्ध कराई है।