डीएम व एसपी ने निराश्रितों को कराया भोजन, बोले बलिया में नही सोने देंगे किसी को भूखे
March 26, 2020 • गुरुकुल वाणी


बलिया 26 मार्च।  एक तरफ जिला प्रशासन जहां लॉक डाउन को लागू करके बलिया में कोरोना वायरस की महामारी को आने से रोकने के लिये एड़ी चोटी का जोर लगाये हुए है और जनपद में सारी दुकानों होटलों आदि को बंद कराये हुए है। एक तरफ जहां जिले के अधिकारी पद के दायित्वों के कारण सख्ती कर रहे है तो वही इनके अंदर की संवेदनशीलता भी मौका पाते ही सरकारी बंदिशों के दरवाजे तो नही लेकिन खिड़कियां खोलकर इंसानियत के रूप में बाहर निकल ही गयी। आज लॉकडाउन के बीच, कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोए इसको लेकर भी जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक गम्भीर दिखे।

गुरुवार को डीएम श्रीहरि प्रताप शाही व एसपी देवेंद्र नाथ स्वयं सड़कों पर पर्याप्त भोजन के पैकेट के साथ निकले और रेलवे स्टेशन व अन्य सार्वजनिक जगहों पर मिले निराश्रित लोगों में बांटे। भोजन मिलने के बाद इन लोगो के चेहरों पर ऐसी मुस्कान दिखी मानो इनको सारे जहां की खुशियां मिल गयी हो । बता दे कि ये लोग लोगो से भीख मांग कर अपना जीवन यापन करते है। लॉक डाउन व ट्रेनों की आवाजाही बन्द होने से जहां इन लोगो को कोई सहायता भी नही मिल रही है, वही कोई होटल भी नही खुला है जहां से ये लोग खाना खरीद कर खा सके । घुमन्तू परिवार या भीख मांगने वाले बच्चे भी भोजन पाकर बेहद खुश दिखे।

जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने स्वयं इन पैकेटों का वितरण किया। डीएम ने कहा कि हमारा प्रयास यही होगा कि सरकारी सहायता से या स्वयंसेवी संगठनों के माध्यम से हर निराश्रित तक सुविधाएं पहुचाएंगे। हम लोग अपने जनपद में किसी को भी भूखा नहीं सोने देंगे।