देवरिया सदर स्टेशन के मुख्य वाणिज्य निरीक्षक श्री राजा राम बने "कोरोना वारियर ऑफ द डे"
May 13, 2020 • गुरुकुल वाणी

वाराणसी, 13 मई 2020। पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन द्वारा कोविड-19 के संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए यथा सम्भव प्रयास किए जा रहे हैं।  पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल के कर्मचारी  पूरी कुशलता से विभिन्न प्रकार की सामग्री का उत्पादन कर रहे हैं तथा प्रतिदिन हर मंडल के बेहतर कार्य करने वाले कर्मचारी को मंडल स्तर पर "कोरोना वारियर आफ द डे" (Corona Warrior of the day) घोषित एवं प्रचारित कर उसका उत्साह वर्धन किया जा रहा है जिससे अन्य कर्मचारी भी कार्य करने हेतु प्रेरित होते रहें। 

इसी क्रम में वाराणसी मंडल के देवरिया सदर स्टेशन पर मुख्य वाणिज्य निरीक्षक के पद पर कार्यरत श्री राजा राम ने लॉकडाउन की विषम अवधि में योद्धा के रूप में कार्य किया। इनके द्वारा 23, मार्च से चल रहे लॉकडाउन के दौरान कुसुम्ही एवं देवरिया सदर मालगोदाम के व्यापारियों से समन्वय स्थापित करते हुए अपर जिलाधिकारी, गोरखपुर एवं देवरिया से अनुमति लेकर कुसुम्ही में 23 रैक तथा देवरिया सदर में 41 रैकों को खाली कराया गया। इसके साथ ही इनके द्वारा बैतालपुर मालगोदाम पर चल रहे बकायों को लॉकडाउन अवधि के दौरान स्वयं बैतालपुर डिपो जाकर 32,34,351 रु० का डीडी स्टेशन को प्राप्त कराया। उन्होंने अपने नियमित कार्यों के अतिरिक्त मानवीय संवेदना का परिचय देते हुए COVID-19 के कारण चल रहे लॉकडाउन के दौरान कुसुम्ही, गौरीबाजार एवं देवरिया सदर स्टेशन पर रह रहे  गरीब, बेसहारा और असहाय 270 लोगों को भोजनहेतु राशन समग्री देकर सहायता कर रहे हैं तथा विगत सप्ताह तक 300 से अधिक भूखे लोगों को एक समय भोजन करा चुके हैं। इसके अतिरिक्त  इस विषम परिस्थिति में कुसुम्ही एवं देवरिया सदर स्टेशनों पर कार्य करने वाले मजदूरों का प्रत्येक दिन थर्मल स्कैनिंग करायी जा रही है। इसके साथ ही श्री राजा राम द्वारा  कुसुम्ही, बैतालपुर एवं देवरिया सदर के मल्गोदामों में कार्यरत कर्मचारियों एवं मजदूरों 520 फेस मास्क बाँटकर रैकों की लोडिंग/अनलोडिंग में  सोशल डिस्टेसिंग पालन सुनिश्चित कराया गया। इन्होंने देवरिया सदर  रेलवे स्टेशन पर 11, मई की मध्य रात्रि के समय आयी तीन श्रमिक स्पेशल गाड़ियों के यात्रियों को सुरक्षित उतरवाने में सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंस) का पालन करते हुए महत्वपूर्ण योगदान दिया। इस कठिन समय में उनके कृत्यों एवम् प्रयासों की सराहना करते हुए इन्हें कोरोना वारियर ऑफ द डे घोषित किया गया।    

पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन द्वारा लॉकडाउन अवधि में इस तरह के सराहनीय कार्य करने वाले रेलकर्मियों पुरस्कृत कर सम्मानित किया जाता रहेगा। पूर्वोत्तर रेलवे को अपने इन कर्मचारियों पर गर्व है। उक्त जानकारी अशोक कुमार, जनसंपर्क अधिकारी, वाराणसी ने दी।