गांवों में भूसा बनाने वालों की मनमानी : रवि भूषण मिश्रा
April 10, 2020 • गुरुकुल वाणी


महोदय,

भागलपुर ब्लॉक के तमाम गावो में कम्बाइन मशीन के साथ, भूसा बनाने वाली मशीने चल रही है। *भूसा बनाने वाले लोग प्रति ट्राली भूसा 1800₹ से 2200₹, गरीब किसानों से वसूल किया जा रहा है।* जबकि एक ट्राली *भूसा बनाने  ,लेबर व होम डीलेवरी तक टोटल खर्च अधिक से अधिक 400 से 500 ₹/ट्राली तक का खर्च आता है*। इसमे गरीब किसानों से प्रति ट्राली भूसा 1800₹ से2200 की वसूली, बहुत ही हृदयविदारक है आज की परिस्तिथि में है। 

जहाँ आज पूरा देस व देस की जनता कोविड- 19 की मार से त्रस्त है, पूरा देस लॉक डाउन की वजह से छोटे-बड़े सभी कारोबार बंद है, लोगो को अपनी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति की लाले पड़े है। जहाँ पूरा सरकारी मशीनरी , देस प्रदेश की जनता का राशन पानी की पूर्ति के लिए हर सम्भव प्रयत्न कर रही है। वहीँ गावों में गरीब जनता अपनी मवेशियों की भोजन के लिए इस तरह की त्रासदी भुगत रही है। 
ऐसे में गावो में भूसा बनाने वालो कि मानवीय संवेदना बिल्कुल समाप्त हो चुकी है। 

अतः सभी सम्मानित जिम्मेदार प्रशासनिक महोदय, व स्थानीय माननीय सांसद,व विधायक महोदय, व सभी तरह के सम्मानित समाज सेवक महोदय से कर बद्ध प्रार्थना है कि येन- केन प्रकारेण, इस विषम परिस्तिथि में गरीब जनता की इस बड़ी समस्या का त्वरित रूप से निदान करने व कराने की कृपा करें। और सभी भूसा वेंडरो का  भी निश्चित भूसा दर निर्धारित किया जाय।