हां मैं किसान हूं और कर्जदार हूं सिर्फ सरकार की गलत नीतियों के कारण
May 11, 2020 • गुरुकुल वाणी

हां मैं किसान हूं और कर्जदार हूं सिर्फ सरकार की गलत नीतियों के कारण क्योंकि अगर सरकार मुझे.....

#स्वामीनाथन_रिपोर्ट के हिसाब से रुपए देती तो आज मैं #कर्जदार नहीं होता इसका एक #उदाहरण देता हूं 1970 में गेहूं का #रेट_76 रुपए प्रति क्विंटल था और सन 2020 में 1925 रू प्रति क्विंटल है मतलब 25% के करीब बढ़ोतरी है।
#गन्ने का मूल्य केवल #325 #रुपये है। वहीं दूसरी तरफ सन 1970 में #सोना 184 रुपए प्रति 10 ग्राम था जो आज सन2020 में #46000 रू से ऊपर है ,

जो तकरीबन 250 गुना ज्यादा है इसी तरीके से नेताओं की आए तकरीबन 1000 प्रतिशत ज्यादा हुई है ,
इसी तरह से #सरकारी_नौकरी वालों की सैलरी 250 प्रतिशत ज्यादा हुई है ,

तो #किसान का क्या #कसूर जब की किसान को #खाद #बीज व #दवाई हर साल कई गुना #ज्यादा रुपए में लेनी पड़ती है और #स्वामीनाथन_रिपोर्ट में कही गयी सुविधाएँ न मिलने के कारण हर साल तकरीबन #दो_लाख करोड़ का नुकसान उठाना पड़ता है ।

किसान पर सिर्फ 7 लाख करोड़ #केसीसी के रूप में कर्ज है तो सोचिए किसानों को आज तक #सरकार से कितना रुपए लेना पड़ता और कहां और क्यू किसान कर्जदार है जरा सोचिए।
#orgrkmkisan #किसान_आयोग

शिवाकांत तिवारी की रिपोर्ट