जनता कर्फ्यू के चलते दुकानदार ले रहे शाग सब्जियों के मनमाने दाम
March 25, 2020 • गुरुकुल वाणी

शिकायत पर प्रशासन आया एक्सन में

खाने पीने व सब्जियों के दुकानदार ले रहे रेट से अधिक पैसे
एसडीएम, तहसीलदार सहित कोतवाल ने की छापेमारी

छापेमारी के दौरान अनेक दुकानदार पकड़े गए

सलेमपुर, देवरिया। कोरोना वाइरस के महामारी के चलते भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवाहन पर जनता कर्फ्यू के बाद कोरोना के बढ़ते कहर के कारण प्रदेश की सरकारें जैसे ही लॉक डाउन की घोषणा की वैसे ही शाग सब्जियों, फल व खाने पीने के दुकानदारों ने ग्राहकों से मनमाने दाम लेने लगे।
सब्जी मंडी में आलू प्याज, टमाटर सहित मिर्चा के दामों में बेतहाशा बृद्धि कर इन सामानों की बिक्री शुरू हो गयी।

आलू चालीस तो टमाटर साठ व हरा मिर्च दो सौ रुपये किलो बिकने लगे, सेव दो सौ रुपये तो अन्य खाद्य सामग्रियों के दामों में ऐसे ही दुकानदार मनमाने रेट पर बेचने लगे।
जब इसकी शिकायत स्थानीय प्रशासन से की गई तो तुरंत प्रशासन एक्सन में आकर छापेमारी कर अनेक दुकानदारों को दबोच सामान्य रेट पर बेचने का निर्देश दिया।
इसकी शिकायत रवीश पांडेय, ईचौना निवासी इन्द्रहास पाण्डेय उर्फ पप्पू तथा विधायक प्रतिनिधि उमाकांत मिश्र ने स्थानीय प्रशासन से किया तब जाकर प्रशासन ने कदम उठाया।

इसकी शिकायत मिलते ही तहसीलदार सलेमपुर,एस डी एम सलेमपुर व कोतवाल सलेमपुर ने सब्जी मंडी सहित दूसरे दुकानदारों के यहां छापेमार कर उन्हें सामान्य रेट पर बस्तुओं की बिक्री करने का निर्देश दिया।

इस दौरान सिसवा निवासी बसंत ने सब्जी खरीदकर मंडी से जैसे ही बाहर आये थे कि एस डी एम ने उनसे पूछ दिया कि मिर्चा किस रेट में खरीदे हो उसने रेट दो सौ रुपये बताये इस पर उन्हें लेकर दुकानदार के पास गए और दुकानदार के साथ उचित कार्यवाही करते हुए उचित रेट पर समान बेचने को निर्देशित किये।

इन्द्रहास पांडेय उर्फ पप्पू ने कहा कि प्रशासन सजग हो महामारी के इस अवसर पर जनता का सहयोग करे अन्यथा इसका खामियाजा दुकानदारों को भोगना पड़ जायेगा।
इस बाबत स्थानीय प्रशासन से बात की गई तो कहा गया कि ऐसी शिकायत मिली है और शिकायत मिलने पर कार्यवाही भी की गई है। दुकानदारों को निर्देशित किया गया है कि वे जनता से मनमाने दाम न ले वरना उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

रवीश पाण्डेय
सलेमपुर देवरिया