करोना मरीजों की जान बचाने आगे आये जमाती : मेराज अब्दुल्ला 
April 25, 2020 • गुरुकुल वाणी

कल रवीश जी के प्राइम टाइम में कोरोना के इलाज के लिए प्लाज़्मा थेरेपी पर प्रोग्राम देखा ...जिसमे अगर कोई बंदा कोरोना से ठीक हो जाता है तो उसके शरीर के अंदर एंटीबॉडी बन जाता है जिससे उसका शरीर कोरोना से लड़ सकता है और अगर ऐसे बंदे का खून किसी कोरोना संक्रमित को दिया जाता है तो उस मरीज़ के अंदर भी कोरोना से लड़ने की क्षमता आ जाती है ..और भारत में यह प्रयोग सफल भी हो रहा है ..

सुनने में आ रहा है कि 40 जमात वाले जो कोरोना से ठीक हुए हैं ..वो आगे आए हैं अपना ब्लड देने के लिए और आपको बता दें कि एक कोरोना से ठीक हुआ इंसान तीन लोगों को खून देकर बचा सकता है ..

अब जिन जमातियों को कोरोना फैलाने के लिए लोग कोस रहे थे ...आज वही कोरोना मरीजों के लिए आगे आए हैं ...
है ना यह अजीब बात 🙄

लेकिन , क्या करें ..इंसानियत बहुत बड़ी चीज होती है ..
 वैसे, बहुत लोग तो जमातियों पर NSA लगाने की बात कर रहे थे। 

अगर उनपर रासुका लगा दिया जाता है और जेल भेज दिया जाता तो सोचिये 120 लोगों के बचने की उम्मीद कम हो जाएगी।


साभार  निशात इमरान