कोरोना कर्फ्यू से दहला पूरा भारत, शहर से गांवो तक पसरा सन्नाटा
March 25, 2020 • गुरुकुल वाणी

गांवो में भी लोग दुबके रहे घरों में

कुछ मनबढ़ निकले घर से सड़क पर

पुलिस को दिखानी पड़ी सख्ती

मंदिरों में भी नही दिखे श्रद्धालु व भक्त 

सलेमपुर, देवरिया। कोरोना वायरस के खौफ ने जहां पूरे भारत को दहला कर रख दिया है वहीं दूसरी तरफ कोरोना कर्फ्यू से चारो तरफ सन्नाटा पसरा हुआ है। सड़कें सुनी पड़ी है उन पर लोग इक्का दुक्का लोग चलते देखे गए।कुछ विषम परिस्थितियों में लोग अपने घरों से बाहर देखे गए कोई दवा के लिए तो कुछ खाने पीने के समान लेने के लिए सड़क पर जाते देखे गए। इस दौरान पुलिस के जवान मुस्तैदी से कोरोना कर्फ्यू का पालन कराते नजर आए। कुछ मनबढ़ युवक साइकिल व वाईक पर सवार हो बाजार में घुसे जिनके साथ पुलिस सख्ती से पेश आयी।

कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी जरूरी बस्तुओं की दुकानें खुली रही जहां से लोग अपनी आवस्यकता की बस्तु खरीदते देखे गए। वहीं दूसरी तरफ सब्जी व किराने की दुकानों पर मनमाने रेट पर समान बेचे गए जिस पर भाजपा नेता उमाकांत मिश्रा व इन्द्रहास पांडेय उर्फ पप्पू ने कहा कि वयापारी भाईयों को इस आपातकालीन समय में लोगों की मदद करने के बजाय लूट खसोट मचाये हुए हैं जिसका खामियाजा इनको भोगना पड़ेगा। आगे इन्होंने आगे आम जनता से अपील करते हुए अपने लिए, अपने बच्चों के लिए, अपने परिवार के लिए तथा अपने देशवासियों के लिए अपने अपने घर पर बने रहें।

चैत्र मास के नवरात्रि के प्रथम दिन माता रानी के मंदिरों में भी सन्नाटा पसरा रहा श्रद्धालु अपने घर पर ही देवी की आराधना करते देखे गए।इस मौके पर गांव गुमटही में हर घरों में पूजा पाठ कर शंख नाद कर जहां एक तरफ देवी दुर्गा की आराधना की गई वहीं दूसरी तरफ भारी मात्रा में अरविन्द पांडेय उर्फ बबलू ने हवन कर पूजा पाठ किया और कोरोना जैसे अन्य दूसरे विषाणुओं को खात्मा करने की प्रार्थना की।

कोरोना के भय ने लोगों में जहां दहशत भर दिया है वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश की जनता को संबोधित करते हुए जैसे ही मंगलवार की रात्रि 12 बजे से पूरे देश मे लॉक डाउन की घोषणा की वैसे ही लोगों में कोरोना को लेकर चल रहे अफवाहें साफ हो गयी और इसके nhi खतरनाक परिणाम bhi को लेकर लोगों के बीच फैली अटकलें भी साफ होती नजर आने लगी।
लॉक डाउन के दौरान नगर उप नगर सहित गांवो में भी चारो तरफ सन्नाटा छाया रहा।

                                  रवीश पाण्डेय
                                 सलेमपुर, देवरिया