मध्‍यमवर्ग की टूट जायेगी कमर : डाॅ. चतुरानन ओझा
April 17, 2020 • गुरुकुल वाणी

क्या आप उन लोगों में से हैं जो कोरोना का टेस्ट ख़रीद सकने लायक़ हैं..? तो जानिए

एक टेस्ट की फ़ीस 4500/- रुपये, एक मरीज़ को कम से कम चार बार टेस्ट कराने पड़ते हैं यानि क़रीब 18000/- रुपये कम से कम ।

कई मामलों में छ: सात बार (जैसे कनिका का मामला)
यदि परिवार में छः लोग हैं, आप, आप की पत्नी, आपके माँ-बाप और आपके दो बच्चे तो सभी का टेस्ट होगा। यानि 18000*6=108000/- रुपये। और परिवार के बाक़ी बचे लोगों की संख्या का गुणा भाग कुछ आप भी कीजिये।

भाजपा की केन्द्रसरकार की समिति के अनुशंसा पर सुप्रीमकोर्ट नें सबके लिए फ्री टेस्ट की सुविधा ख़त्म कर सिर्फ आयुष.भारत के लाभार्थियों के लीए कोरोना टेस्ट को फ्री किया है़। 

आयुष.भारत, देश की सिर्फ़ एक चौथाई आबादी को ही कवर करता है।