मजदूरों को मिले नगद आर्थिक मदद - अशोक
May 23, 2020 • गुरुकुल वाणी
 
सलेमपुर, देवरिया। कांग्रेसी नेता अशोक मद्धेशिया व मनोज गुप्ता ने सरकार से मजदूरों के लिए आर्थिक नगद मदद की मांग करते हए कहा कि कोरोना महामारी के कारण भारत में लाक डाउन होने से मजदूरों, व्यावसायियों, ठेले खुमचे वाले रोज कमाने खाने वाले लोगो को आर्थिक परेशानियां झेलनी पड़ रहीं है। नगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अशोक मद्धेशिया व कोषाध्यक्ष मनोज गुप्त ने कहा कि देश में लगभग 42 करोड़ संगठित एवम असंगठित क्षेत्र में मजदूर कार्यरत है एवम विदेश में एक करोड़ तिहत्तर लाख मजदूर हैं। देश के महानगरों बंबई, दिल्ली, अहमदाबाद, चेन्नई, कोलकाता आदि शहरों में गरीब मजदूर रोटी के लिए तथा अपने परिवार के भरणपोषण के लिए मेहनत कर के धन कमाते है और इन्हीं धन के द्वारा उनका परिवार जिंदा रहता है तथा उन क्षेत्रो के दुकानदारो का व्यवसाय चलता है। और व्यावसायियों का घर खुशहाल रहता है फैक्टरी बन्द होने के कारण महानगरों से मजदूरों का पलायन गाव की ओर हो रहा है मजदूरों के गांव आने पर इनका जीवन और कष्ट कारक  होता जा रहा है। ऐसे में भारत सरकार को चाहिए कि इनके खाते में नगद पैसा भेज कर इनकी आर्थिक मदद करे। अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, आदि देशों में वहाँ की सरकारें अपने नागरिकों एवम कामगारों को आर्थिक मदद दी है। अगर ऐसा हमारे देश में भी होता है तो मजदूरों के साथ साथ छोटे व्यापारियों की स्थिति में भी सुधार आएगा और देश प्रगति के रास्ते पर चल पड़ेगा।