पद्मभूषण से सम्मानित प्रसिद्ध शास्त्रीय गायक पंडित जसराज का अमेरिका में निधन, PM मोदी ने जताया दुख
August 17, 2020 • गुरुकुल वाणी

न्यूजर्सी। विश्व प्रसिद्ध शास्त्रीय संगीत सम्राट पंडित जसराज का सोमवार को अमेरिका के न्यूजर्सी में हृदयगति रुक जाने से निधन हो गया। पद्मभूषण से सम्मानित संगीत सम्राट 90 वर्ष के थे। मेवाती घराना के शास्त्रीय संगीतग्य पंडित जसराज का जन्म 28 जनवरी 1930 को हरियाणा के हिसार में हुआ था। पंडित जसराज पिछले कुछ समय से अपने परिवार के साथ अमेरिका में ही थे। वह पद्मश्री और पद्यभूषण से भी सम्मानित हुए थे।

पंडित जसराज के निधन से संगीत जगत शोक में डूब गया है।उनकी बेटी दुर्गा जसराज ने बताया है, 'बड़े दुख के साथ हमें यह सूचित करना पड़ रहा है कि संगीत मार्तंड पंडित जसराज ने अमेरिका के न्यू जर्सी में सुबह 5:15 बजे अपनी कार्डिअक अरेस्ट के चलते अंतिम सांसें लीं।' उन्होंने आगे कहा है, 'हम प्रार्थना करते हैं कि भगवान कृष्ण उनका स्वर्ग में प्यार से स्वागत करें जहां अब पंडित जी ओम नमो: भगवते वासुदेवाय सिर्फ अपने प्यारे भगवान के लिए गाएंगे। हम प्रार्थना करते हैं कि उनकी आत्मा को हमेशा संगीत में शांति मिले।' नहीं रहे पंडित जसराजसंगीत को अपना जीवन समर्पित करने वाले जसराज को कई अवॉर्ड, सम्मान और उपाधियां मिली हैं। अमेरिका में मौजूद जसराज ने इस सम्मान के बारे में कहा, यह मुझे ईश्वर की असीम कृपा दिखती है। यह भारत और भारतीय संगीत के लिए भगवान का आशीर्वाद है।

पीएम मोदी ने जताया दुख पंडित जसराज के निधन पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया है। उन्होंने फोटो शेयर करते हुए लिखा, ''पंडित जसराज जी के निधन से भारतीय सांस्कृतिक क्षेत्र में एक खालीपन आ गया है. न केवल उनकी प्रस्तुतियां उत्कृष्ट थीं, उन्होंने कई अन्य गायकों के लिए एक असाधारण गुरु के रूप में भी अपनी पहचान बनाई। दुनिया भर में मौजूद उनके प्रशंसकों और परिवार के प्रति संवेदना। ओम् शांति''