सीएम योगी ने आगामी दिनों में अंबेडकर जयंती, बैसाखी, रमजान माह जैसे पर्वों को लेकर लोगों से की अपील
April 13, 2020 • गुरुकुल वाणी
 
लखनऊ  सीएम योगी ने रविवार को लॉकडाउन के विस्तार की ओर संकेत दिए। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के बारे में आगे की कार्रवाई क्या होती है, इसके लिए भारत सरकार की जो गाइड लाइन आएगी, उसका अनुपालन हम लोग उत्तर प्रदेश में करेंगे। इसी के साथ ही उन्होंने आगामी दिनों में अंबेडकर जयंती, बैसाखी, रमजान माह जैसे पर्वों को लेकर भी लोगों से अपील की।

बैसाखी पर सामूहिक आयोजन नहीं

उन्होंने कहा कि 13 व 14 अप्रैल को महत्वपूर्ण तिथियां हैं। 13 अप्रैल को खालसा पंथ की स्थापना के उपलक्ष्य में सिख पंथ से जुड़े बंधुगणों द्वारा एक महत्वपूर्ण आयोजन होता है। बैसाखी का पर्व है। इन तिथियों पर कोई सामूहिक आयोजन नहीं होंगे। कोरोना का एक ही बचाव है- लाॅकडाउन। सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन हम लोग लागू करें।

अम्बेडकर जयंती पर भी आयोजनों पर रोक

सीएम योगी ने कहा कि 14 अप्रैल को आदरणीय बाबा साहब डाॅ. भीमराव अम्बेडकर जी की पावन जयंती है। इस अवसर पर सभी मंत्रियों, अधिकारियों को कहा गया है कि इस पावन अवसर पर केवल कार्यालय में अकेले ही पुष्पांजलि अर्पित करें। या फिर वे अपने घर पर ही चित्र पर माल्यार्पण व पुष्पांजलि का कार्यक्रम करें। किसी प्रकार का कोई पब्लिक आयोजन न हो। इसके बारे में अपील हर स्तर पर जारी होनी चाहिए।

रमजान के लिए भी अपील

मुख्यमंत्री ने आखिर में कहा कि इसके साथ ही आगामी पर्व और त्यौहारों के लिए भी यही अपील है। जैसे 23 अप्रैल से रमजान शुरू होंगे। सभी मौलाना, मौलवी, धर्मगुरुओं से हम लोगों की अपील है कि किसी भी पर्व, त्यौहार पर सामूहिक आयोजन न हों क्योंकि यह आयोजन बीमारी और संक्रमण को बढ़ा सकते हैं।